पर्ट्युसिस (कुकुरखांसी)

पर्टुसिस, जिसे कुकुरखांसी भी कहा जाता है, एक अत्यंत संक्रामक रोग है जो बॉर्डेटेला पर्टुसिस बैक्टीरियम द्वारा होता है। ये जीवाणु ऐसे विष पैदा करते हैं जो श्वसन कोशिकाओं के भागों को पंगु बना देते हैं, जिससे श्वसन नली में प्रदाह उत्पन्न होता है।

यद्यपि कुकुर खाँसी के टीके की शुरुआत के बाद दुनिया भर में कुकुर खाँसी के मामलों में भारी कमी आई है, फिर भी हाल के वर्षों में इस रोग का प्रकोप दुनिया भर में फैला। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुमान के मुताबिक वर्ष 2012 में कुकुरखांसी के कारण दुनियाभर में 89,000 लोगों की मौंत हुई।

लक्षण

कुकुरखांसी के शुरुआती लक्षणों में नाक का बहना, छींक आना, और हल्का कफ रहता है जो सर्दी-खांसी की तरह लगता है। इसमें प्राय: हल्का बुखार भी होता है। हालांकि, कफ धीरे-धीरे अधिक गंभीर होता जाता है। आखिरकार रोगी को तेज खांसी होने लगती है और कभी-कभी “घड़घड़ाहट” की आवाज के साथ जिससे इस रोग को इसका सामान्य नाम मिला क्योंकि वे सांस खींचने की कोशिश करते हैं। खांसी का दौरा आने पर, हो सकता है कि रोगी नीला पड़ जाए।

कुकुरखांसी के लिए इंक्युबेशन की अवधि 7-10 दिनों के बीच होती है, लेकिन एक महीने से अधिक समय तक चल सकता है| लक्षणों के पहली बार प्रकट होने के बाद, रोग अपनी अवधि पूरा करने के लिए सप्ताह से लेकर महीनों रह सकता है।

जहां लक्षण वयस्कों के लिए कम तीव्र हो सकते हैं, वहीं यह नवजातों और किशोरों के लिए अत्यंत खतरनाक हो सकता है।

प्रसार

कुकुरखांसी का जीवाणु छींटों के रूप में हवा में फैल जाता है जब कोई बीमार व्यक्ति खांसता है या छींकता है। ये बूंदें निकट खड़े लोगों की सांसों में जाकर उन्हें संक्रमित कर सकता है।

किसी वयस्क में रोग से संबंधित खांसी इतनी हल्की हो सकती है कि इसे एक साधारण खांसी समझने की भूल हो सकती है। हालांकि, जिन वयस्कों में हल्के लक्षण होते हैं, वे संक्रामक होते हैं और वे उन नवजातों को आसानी से संक्रमित कर सकते हैं जिनकी आयु अभी टीका लेने की नहीं है, या उन व्यक्तियों को संक्रमित कर सकते हैं जिनकी प्रतिरक्षण क्षमता कमजोर है।

उपचार और देखभाल

कुकुरखांसी के उपचार में प्राय: सहयोगात्मक देखभाल ही की जाती है। एंटीबायोटिक का प्रयोग कभी-कभी किया जाता है; हालांकि, यह मुख्य रूप से संक्रमित रोगी के स्रावों से बॉर्डेटेला पर्टुसिस जीवाणु को नष्ट करने के लिए दिया जाता है, ताकि दूसरे लोग संक्रमित न हो पाएं। एंटीबायोटिक उपचार रुग्णता के सिलसिले को लगभग प्रभावित नहीं करता यदि यह उपचार बहुत पहले न दिया जाए।

रोगी के संपर्क में रहने वाले लोगों को एंटीबायोटिक्स दिया जा सकता है ताकि संक्रमण से बचाया जा सके।

जटिलताएं

छ: महीने से कम की आयु के शिशुओं को जटिलताओं का खतरा रहता है और कुकुरखांसी से मृत्यु भी हो सकती है। जटिलताओं में शामिल हैं न्युमोनिया (जीवानु जनित या वायरल), दौरा, कान का संक्रमण, और निर्जलीकरण एवं अन्य; वयस्कों में, खांसने से पसली के फ्रैक्चर की संभावना हो सकती है।

नवजातों में सबसे आम जटिलता है बी. पर्ट्युसिस न्युमोनिया, जो कुकुरखांसी से होने वाली सभी मौंतों के साथ पाई जाती है।

उपलब्ध टीके

बच्चों में कुकुरखांसी के खिलाफ प्रतिरक्षण DTaP और DTwP (डिप्थीरिया, टिटनस और कुकुरखांसी) टीकों के कॉम्बिनेशन के जरिए उपलब्ध है। अन्य कॉम्बिनेशन टीके किशोरों और वयस्कों के लिए उपलब्ध हैं।

टीकाकरण की अनुशंसाएं

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने दुनिया भर के नवजातों को कुकुर खाँसी का टीका देने की अनुशंसा ही है। टीका 2 महीने की आयु के शुरुआत में DTaP या DTwP के प्राथमिक सीरीज के 3-खुराकों में दिया जाता है। 2 वर्ष की आयु के आसपास लेकिन 6 वर्ष की आयु से पहले बूस्टर खुराक की अनुशंसा के जाती है। कुछ देशों में, किशोरों के लिए भी बूस्टर खुराकों की अनुशंसा की जाती है।

कुकुर खाँसी के टीके का मुख्य उद्देश्य है नवजातों में गंभीर कुकुरखांसी के खतरे को कम करना। कुकुर खाँसी के ये खुराक नवजातों में रोग के खिलाफ 90% प्रभावी हैं।

वर्ष 2008 में, दुनिया भर के लगभग 82% नवजातों को कुकुर खाँसी के 3 खुराक दिए गए। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, 2008 में, वैश्विक कुकुरखांसी टीकाकरण कार्यक्रम से 687,000 मौंतों को रोका गया।


स्रोत

सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन। Pertussis. Epidemiology and Prevention of Vaccine-Preventable Diseases. Atkinson W, Wolfe S, Hamborsky J, McIntyre L, eds. 13th ed. Washington DC: Public Health Foundation, 2015. (730 KB). 20/3/2017 को प्रयुक्त।

Paddock CD, Sanden GN, Cherry JD, et. al. Pathology and pathogenesis of fatal Bordetella pertussis infection in infants. Clinical Infect Dis. 2008; 328-38.

विश्व स्वास्थ्य संगठन । Pertussis. Immunization, vaccines, and biologicals. 20/3/2017 को प्रयुक्त।

विश्व स्वास्थ्य संगठन । Pertussis vaccines: WHO position paper. August 2015. (150KB). 20/3/2017 को प्रयुक्त।

PDFs पढ़ने के लिए, Adobe Reader डाउनलोड करें और इंस्टॉल करें।

अंतिम अपडेट 20 मार्च 2017